बाप ने किया सौतेले बेटे के साथ कुकर्म।

1
2234

नई दिल्ली (सुधीर सलूजा):- पश्चिम विहार थाने में दर्ज एफ आई आर नंबर 344/18 के तहत श्री आशीष अरोड़ा रिहायश पश्चिम विहार निवासी सौतेले बाप ने किया हैवानियत भरा कुकर्म! अपनी 3 माह पहले हुई दूसरी शादी से सौतेले पुत्र के साथ किया कुकर्म . पिता आशीष अरोड़ा ने पेश किया शैतानियत का रूप बच्चे के साथ जब उसकी माता आस पास नहीं होती थी। बच्चे को इतना डराया-धमकाया और मारा पीटा कि बच्चे का मानसिक स्तर बिल्कुल गिर गया पीड़ित माता जब अपने पीड़ित बच्चे की शिकायत दर्ज करने के लिए पश्चिम विहार थाने गई तो आशीष अरोड़ा को गिरफ्तार कर लिया गया और उस हैवान का साथ देते हुए उसके अपने ही रिश्तेदार एकजुट होकर बचाव पक्ष में खड़े हो गए। सच जानते-बूझते भी विक्टिम का साथ नहीं दिया भ्रमित लोगों को इसका भी आभास नहीं था कि जिसका वह साथ दे रहे हैं वह इंसान के रूप में हैवान है। अगले ही दिन आशीष की माता ने अपनी ही 9 साल की पोती को ढाल बनाकर एक नकली FIR विक्टिम के मामा और नाना पर दर्ज करा दी। अफसोस की बात तो यह है कि जानते-बूझते कि यह काउंटर FIR एक लड़की को ढाल बनाकर इन लोगों ने करवाई उसका साथ हमारी दिल्ली पुलिस ने दिया। हैरतअंगेज करने वाली घटना यह हुई कि लड़की बयान से भी पलट गई फिर भी पुलिस वालों ने उनकी गलत FIR को भी दर्ज किया जिसके तहत विक्टिम के मामा को अरेस्ट करके थाने के अंदर लाकर खूब टॉर्चर किया गया ताकि वह विक्टिम की माता पर दबाव डाल सके कि इस केस को वापस ले ले। मजबूरन पीड़ित की माता को इस केस में मजिस्ट्रेट से प्रार्थना करके आशीष अरोड़ा को बेल दिलवानी पड़ी उसके आंसुओं की कोई सीमा न थी। ऐसे कुकर्मी, ऐसे इंसान का तो समाज से बहिष्कार कर देना चाहिए किस तरह कुकर्म करके भी आज बाहर है  और जिस बच्चे के साथ यह कुकर्म किया है उसका पूरा परिवार डिप्रेशन में है। इस रिपोर्ट के माध्यम से गुहार है पीड़िता के परिवार की तरफ से दिल्ली पुलिस, न्यायालयों सभी जनहित राजनेताओं एवं समाजसेवियों से की उसे इंसाफ चाहिए। दरखास्त है कि इस मैटर को जल्द से जल्द क्राइम ब्रांच में ट्रांसफर किया जाए एवं सहयोगी NGOs पीड़िता के परिवार की मदद के लिए एकजुट होकर उसका साथ निभाएं क्योंकि आशीष अरोड़ा के परिवार से मिल रही है बेहद धमकियां।

1 COMMENT

  1. Please support us…this is gross injustice to me and my family. We need media, ngos, individuals to raise this issue and let the Govt know and give justice to us.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here