ट्रेन-18 का नाम “वंदे भारत एक्सप्रेस”।

0
159

नई दिल्ली (सुधीर सलूजा) चेन्नई स्थित इंटीग्रल कोच फैक्ट्री में तैयार भारत में विकसित ट्रेन-18 का नाम “वंदे भारत एक्सप्रेस” होगा। यह घोषणा रेल मंत्री पीयूष गोयल ने की। इस ट्रेन की खास बात यह है कि इसमें अलग से कोई इंजन नहीं है। इस ट्रेन के एक सेट में 16 डिब्बे हैं। यह ट्रेन दिल्ली से वाराणसी के बीच 160 किलोमीटर प्रति घंटा की अधिकतम रफ़्तार से दौड़ेगी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही इसे हरी झंडी दिखाएंगे। यह देश की पहली इंजन रहित ट्रेन होगी। इस पर 97 करोड़ की लागत आई है और इस ट्रेन को भारतीय इंजीनियरों ने मात्र 18 महीने में बनाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here