दो दिवसीय टीबी मुक्त भारत शिखर सम्मेलन-2019 व India Vs TB क्रिकेट प्रतियोगिता का शुभारंभ।

0
157
नई दिल्ली ( सुधीर सलूजा) दिनांक:02-02-2019, देश को टीबी से मुक्त किए जाने की दिशा में टीबी मुक्त भारत शिखर सम्मेलन को एक अत्यंत ही प्रेरणादायक कदम बताते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि वर्ष 2025 तक भारत को टीबी मुक्त किए जाने के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के लक्ष्य को पूर्ण करने में सभी को सामूहिक रूप से अपनी सक्रिय भूमिका अदा करनी होगी।
                 राष्ट्र को टीबी मुक्त किए जाने की दिशा में नई दिल्ली में सांसद श्री अनुराग ठाकुर द्वारा आयोजित किए जा रहे दो दिवसीय टीबी मुक्त भारत शिखर सम्मेलन-2019 व India Vs TB क्रिकेट प्रतियोगिता के शुभारंभ समारोह को संबोधित करते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय टीबी नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत राष्ट्रीय टीबी उन्मूलन योजना,2017-2025 में दिए गए दिशा-निर्देशों की पालना करनी होगी। हरियाणा को टीबी मुक्त किए जाने की दिशा में संशोधित क्षयरोग नियंत्रण कार्यक्रम लागू किया हुआ है।
              हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि हरिजयाणा के अस्पतालों में प्रतिवर्ष टीबी के लगभग 02 लाख से अधिक संदिग्ध मरीजों की चिकित्सीय जांच की जाती है और टीबी के लगभग 45 हजार मरीजों को औषधियां दी जाती हैं। इनमें से लगभग 86 प्रतिशत मरीज स्वस्थ हो जाते हैं। इसके अतिरिक्त इस कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश स्तर पर 119 टीबी यूनिट व 266 माइक्रोस्कोपिक सेंटर खोले गए हैं। प्रदेश में मल्टी ड्रग रेजिस्टेंट टीबी रोगियों के लिए निशुल्क डाॅट प्लस कार्यक्रम चलाया जा रहा है। सभी जिलों में सीबी नाट मशीन उपलब्ध करवाई जा रही है। प्रदेश के नौ मैडिकल कालेजों को संशोधित राष्ट्रीय क्षयरोग नियंत्रण कार्यक्रम में शामिल किया गया है।
     हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के न्यू इंडिया के संकल्प को पूर्ण करने की दिशा हमें हैल्दी इंडिया भी बनाना होगा। इस दिशा में आयुष्मान भारत योजना अत्यंत ही परिणामदायक साबित होने जा रही है सांसद श्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि वे ‘टीबी हारेगा -देश जीतेगा’ के संकल्प को पूर्ण करने की ओर बढ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here