प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीनबंधु सर छोटूराम की प्रतिमा का अनावरण व रेल कोच रिपेयर फैक्ट्री का शिलान्यास किया ।

0
827
सांपला (रोहतक)  9 अक्टूबर 2018 ( सुधीर सलूजा ):- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सांपला में दीनबंधु सर छोटू राम की 64 फीट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया और साथ ही सोनीपत जिले में रेल कोच रिपेयर फैक्ट्री का शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधन सर छोटू राम के नारे के साथ शुरू किया । उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत हरियाणवी में बोलते हुए की । उन्होंने कहा- चौधरी छोटूराम की इस धरती पे आया सूं, इस्ते घणा खुशी का मौका के हो सके से, देश की सीमा पै रक्षा करण में सबतै घणै जवान, देश की करोडों आबादी का पेट भरण में सबते आग्गे किसान, अर खेलां में सबते ज्यादा मैडल जीतण आलै खिलाडी देण आली हरियाणे की धरती नैं मैं प्रणाम करूं हूं। देश का नाम, स्वाभिमान बढाण में सबतै आगे रहण में हरियाणवियों का कोए मुकाबला नहीं सै।  आज चौधरी छोटूराम की सबसे बड़ी प्रतिमा का अनावरण करने का मौका मिला। 31 अक्टूबर को लौह पुरुष सरदार पटेल की दुनिया मे सबसे ऊंची प्रतिमा का अनावरण करने का मौका मिलेगा। दोनों किसान के लिए थे और रहेंगे।  मुझे हरियाणा में कई वर्ष काम करने का मौका मिला । हरियाणा का कोई ऐसा गांव नहीं जिसमें सेना से कोई ना जुड़ा हो इसका श्रेय सर छोटूराम को जाता है । उन्होंने किसानों को सेना में जाने के लिए प्रेरित किया था । उनका कद इतना बड़ा था कि सरदार पटेल ने छोटू राम के लिए कहा था कि अगर आज छोटूराम जिंदा होते तो मुझे बंटवारे के बाद पंजाब की चिंता ना होती, छोटू राम इसे संभाल लेते ।  पश्चिमी क्षेत्र में उनका इतना प्रभाव था कि अंग्रेज भी छोटू राम की बात मानते थे ।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने सम्बोधन में आज एक बार फिर ओमप्रकाश  धनखड़ को पुराना साथी कहकर संबोधित किया। जब भी  प्रधानमंत्री हरियाणा आते हैं या फिर कहीं दूसरे स्थान पर भी कार्यक्रम में होते हैं तो प्रधानमंत्री धनखड़ को नहीं भुलाते। सांपला में अपने सम्बोधन में मोदी जी ने कहा की मेरे पुराने साथी ओ पी धनखड़ जी, इस सम्बोधन से धनखड़ समर्थकों की खुशी की सीमा नहीं थी। मंच पर हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य, मुख्यमंत्री मनोहर लाल, केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह, हिमाचल के राज्यपाल आचार्य देवव्रत, जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, कृष्ण पाल गुर्जर, ओम प्रकाश धनखड़, रामविलास शर्मा, कैप्टन अभिमन्यु, मनीष ग्रोवर,  हरियाणा सरकार के कई विधायक व संत समाज से कुछ लोग मौजूद थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here