मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ‘इंटरनेशनल हरियाणा एजुकेशन सोसाइटी’ के ‘ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम’ का किया शुभारंभ

Chief Minister Manohar Lal launched 'Online Training Program' of 'International Haryana Education Society'

0
50

नई दिल्ली, हरियााण के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा में अंतरराष्ट्रीय हरियाणा शिक्षा विभाग स्थापित किए जाने की दिशा में हरियाणा सरकार विचार करेगी।
    ‘शिक्षक दिवस’ के शुभावसर पर हरियाणा भवन में वर्चुअल रूप से आयोजित ‘इंटरनेशनल हरियाणा एजूकेशन सोसायटी’ के ‘आनलाईन प्रशिक्षण कार्यक्रम’ का शुभारंभ करते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा के युवाओं के लिए  विदेशों में शिक्षा व रोजगार हरियाणा सरकार की एक महत्वपूर्ण प्राथमिकता है। ‘विदेश सहयोग विभाग’ स्थापित करने वाला हरियाणा देश का  प्रथम राज्य है। हरियाणा सरकार द्वारा स्नातक व स्नातकोत्तर की शिक्षा उतीर्ण किए जाने के साथ युवाओं के निशुल्क रूप से पासपोर्ट भी बनवाए जा रहे हैं। हरियाणा में 3,000 युवाओं के पासपोर्ट बनवाए भी जा चुके हैं।
          हरियाणा के मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में नई शिक्षा नीति के  क्रियान्वयन का जिक्र करते हुए कहा कि दूसरी भारतीय भाषाओं को सीखना भी महत्वपूर्ण है। मुख्यमंत्री ने विदेशी भाषाओं को सीखने व प्रशिक्षण पर भी बल दिया। उन्होंने कहा कि विदेशों के साथ  सांस्कृतिक आदान-प्रदान भी परस्पर समझ स्थापित किए जाने का एक बेहतर माध्यम होता है। इस दिशा में हरियाणा में आयोजित होने वाले  ‘अंतरराष्ट्रीय सूरजकूंड क्राफ्ट मेला’ व ‘ अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती समारोह’ उल्लेखनीय उदाहरण हैं।
              हरियाणा के मुख्यमंत्री ने  हरियाणा के युवाओं के लिए ‘इंटरनेशनल हरियाणा एजूकेशन सोसायटी’ द्वारा प्रारंभ किए गए ‘आनलाईन प्रशिक्षण कार्यक्रम’ की प्रशंसा करते हुए कहा कि वर्तमान में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर  ‘साफ्ट स्किल्स’ का महत्व भी बढता जा रहा है।  ‘हरियाणा कौशल विकास मिशन ‘ व ‘श्री विश्वकर्मा कौशल विकास विश्वविद्यालय’ का जिक्र करते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि 50 से अधिक औद्योगिक प्रतिष्ठानों के साथ ‘कौशल प्रशिक्षण’ के समझौता ज्ञापन हो चुके हैं।
         ब्रिटेन के सांसद वीरेंद्र शर्मा ने अपने संबोधन में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ अपने अनुभवों को सांझा किया और ‘इंटरनेशनल हरियाणा एजूकेशन सोसायटी’ द्वारा प्रारंभ किए गए ‘आनलाईन प्रशिक्षण कार्यक्रम’ की प्रशंसा की। संयुक्त राज्य अमेरिका के कैलिफोर्निया से जुडे डाॅ राजवीर दहिया ने अपने संबोधन में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न शिक्षण संस्थानों में प्रवेश की व्यापक संभावनाओं बारे उपयोगी विवरण प्रस्तुत किया।
           ‘इंटरनेशनल हरियाणा एजूकेशन सोसायटी’ के संस्थापक रोहित अलावावत ने अपने संबोधन में सोसायटी के उद्देश्यों के बारे में बताया। कार्यक्रम का संचालन विशेष कार्य अधिकारी(प्रचार) गजेंद्र फौगाट ने किया। ब्रिटेन से जुडी श्रीमती रेखा धनखड ने ‘आनलाईन प्रशिक्षण कार्यक्रम’ की विभिन्न प्रक्रियाओं के बारे में जानकारी दी।
       


       

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here