परमवीर चक्र से सम्मानित सूबेदार मेजर योगेंद्र सिंह यादव के जीवन पर आधारित फिल्म

Film based on the life of Param Vir Chakra awardee Subedar Major Yogendra Singh Yadav

0
214

नई दिल्ली,चित्रांगदा सिंह को भारतीय सेना के इतिहास में सबसे कम उम्र के परमवीर चक्र प्राप्तकर्ता योगेंद्र यादव की अविश्वसनीय कहानी पर फिल्म बनाने का अधिकार मिला है। चित्रांगदा सिंह ने अपने पहले प्रोडक्शन के रूप में सूरमा का निर्माण किया था। भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान संदीप सिंह की सच्ची कहानी पर आधारित फिल्म, जिसमें दिलजीत दोसांझ और तापसे पानू ने अभिनय किया था। अब अविश्वसनीय बहादुरी की एक और प्रेरणादायक कहानी के अधिकार मिल गए हैं। सूबेदार योगेंद्र यादव। वह कारगिल युद्ध में लड़े और अब तक 19 साल की उम्र में परमवीर चक्र प्राप्त करने वाले सबसे कम उम्र के हैं। 19 वर्ष की आयु में जब आजकल बच्चे मोबाइल और सोशल मीडिया पर व्यस्त रहते हैं। इस उम्र में योगेंद्र सिंह यादव ने परमवीर चक्र विजेता की उपलब्धि हासिल की।

सूबेदार मेजर योगेंद्र यादव ने बताया कि यह फिल्म टाइगर हिल की लड़ाई पर बनने जा रही है। योगेंद्र सिंह यादव के जीवन पर आधारित यह फिल्म होगी। यह फिल्म करोड़ों युवाओं को प्रेरित करेगी और राष्ट्र के साथ युवाओं को जोड़ने का काम करेगी। टाइगर हिल कारगिल युद्ध का वह ट्रनिंग प्वाईंट था वो चोटी थी जिस पर कब्जा हो जाने के बाद कारगिल युद्ध का यूटर्न हो गया था। उसी पहाड़ी पर 18 ग्रेनेडियर के हम 7 जवानों ने 5 घंटे तक युद्ध लड़ा और उसमें हमारे तमाम साथी शहीद हो गए। लेकिन हिंदुस्तान का सैनिक आखिरी गोली और आखिरी सांस तक लडता है। उसी परंपरा को कायम रखते हुए मैं भी वहां पर लड़ता रहा और आखिरी क्षण तक मैंने अपने साहस और धैर्य को कम नहीं होने दिया। हमारी जीत हुई। हमने टाइगर हिल पर विजय प्राप्त की।
एक सैनिक का कर्तव्य और दायित्व होता है अपने लक्ष्य को प्राप्त करना। मैंने भी अपने दिए हुए लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आखिरी सांस तक लड़ाई लड़ी। एक ऐसी जीत और मुकाम हासिल किया जिससे देश की आन ,बान और शान में चार चांद लगे । इसके बदले देश ने मुझे परम वीर चक्र से नवाजा । मैं इस राष्ट्र का ऋणी हूं । यह एक सैनिक के लिए गर्व की बात है।ज्ञात हो कि योगेंद्र सिंह यादव 31 दिसंबर 2021 को सेवानिवृत्त हो गए हैं। सेवानिवृत्ति से पहले उन्हें राष्ट्रपति द्वारा मानद कैप्टन की उपाधि से नवाजा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here