कुंडली में संत बाबा राम सिंह ने किसान आंदोलन के समर्थन में गोली मारकर की खुदकुशी|

Sant Baba Ram Singh shot and killed himself in support of the farmer movement.

0
749

नई दिल्ली, किसान आंदोलन के समर्थन में 65 वर्षीय संत बाबा राम सिंह ने गोली मारकर खुदकुशी कर ली| वे करनाल के सिंगरा गांव के गुरुद्वारा साहिब नानकसर की ग्रंथी थे और दुनिया भर में उनके लाखों अनुयायी हैं| उन्होंने गुरमुखी में लिखा एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि किसानों का दुख देखा | अपने हक के लिए सड़कों पर परेशान हो रहे हैं| बहुत दिल दुख रहा है |सरकार न्याय नहीं कर रही है |यह जुल्म है| जुल्म करना पाप है और जुल्म सहना भी पाप है| किसानों के जुल्म के खिलाफ किसी ने कुछ किया, किसी ने कुछ किया| किसी ने सम्मान वापस किए | किसी ने पुरस्कार वापिस करके रोष जताया| किसानों के जुल्म के खिलाफ आत्महत्या कर रहा हूं |यही किसान के जुल्म के खिलाफ आवाज है|
संत बाबा राम सिंह ने कुंडली बॉर्डर पर खुदकुशी की और उसके बाद उन्हें पानीपत के पार्क अस्पताल में ले जाया गया| जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here