नई शिक्षा नीति लागू होने से पहले डी यू में शिक्षकों के नियमितीकरण की आवश्यकता – प्रो भागी

There is a need for regularization of teachers in DU before the new education policy is implemented - Prof Bhagi

0
128

नई दिल्ली (सुधीर सलूजा) दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (डूटा) चुनाव में नामांकन प्रक्रिया समाप्त हो चुकी है |नामांकन के बाद एनडीटीएफ के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार प्रोफेसर ए.के भागी ने दिल्ली विश्वविद्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपना एजेंडा रखा| उन्होंने बताया कि उनके एजेंडे में सबसे पहले हजारों की संख्या में कार्यरत तदर्थ शिक्षकों का नियमितीकरण/ समायोजन करवाना रहेगा| प्रोफेसर ए.के भागी ने कहा कि नई नीति लागू होने से पहले डीयू में शिक्षकों का नियमितीकरण होना चाहिए और उसके लिए आवश्यक ऑर्डिनेंस लाने जैसे विकल्प अपनाने की जरूरत पड़ी तो प्रयास किया जाएगा|
प्रोफेसर भागी ने कहा कि उनके एजेंडे में फिजिकल एजुकेशन टीचर्स के मुद्दों का हल और उनके पदों को रोस्टर में शामिल करना,पुस्तकालयाध्यक्षों की सेवानिवृत्ति आयु, सभी शिक्षकों को पेंशन, कैशलेस मेडिकल सुविधा, जीवन बीमा (समूह बीमा) में बढ़ोतरी, दिल्ली सरकार द्वारा वित्त पोषित महाविद्यालयों को पूरा व नियमित अनुदान और इन महाविद्यालयों का दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा अधिग्रहण जैसे कई मुद्दे शामिल है|
प्रोफेसर भागी ने कहा कि दिल्ली विश्वविद्यालय में पहली बार एक साल में पांच हजार से अधिक प्रमोशन हुए हैं और कॉलेज स्तर पर भी प्रोफेसर बने हैं |प्रोफेसर भागी ने कहा कि विश्वविद्यालय में हुई प्रमोशन की प्रक्रिया ने साफ कर दिया है कि अब दलगत राजनीति नहीं चलेगी|
इस अवसर पर एनडीटीएफ के महासचिव डॉ वी एस नेगी, मीडिया प्रभारी डॉ विजेंद्र कुमार व सुनील शर्मा आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here