घरेलू जरूरतों को पूरा करने की एवज में सेक्स की मांग करना, बलात्कार की श्रेणी में आएगा।

0
668

नई दिल्ली, दिल्ली हाईकोर्ट में मैरिटल रेप के एक मामले में सुनवाई करते हुए यह कहा कि पति पत्नी दोनों को सेक्स से इनकार करने का अधिकार है। कोर्ट ने कहा कि शादी का मतलब यह नहीं कि पत्नी सेक्स के लिए हमेशा तैयार रहें। कोर्ट ने कहा कि आज बलात्कार की परिभाषा बदल चुकी है अगर पति अपनी पत्नी की घरेलू जरूरतों को पूरा करने की एवज में सेक्स की मांग करता है तो वह भी बलात्कार की श्रेणी में आएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here