जैन मुनि तरुण सागर जी का निधन।

0
1214

नई दिल्ली, जैन मुनि तरुण सागर जी का 51 साल की उम्र में निधन हो गया। आज सुबह 3:18 बजे दिल्ली के कृष्णा नगर में उन्होंने अंतिम सांस ली।  जैन मुनि तरुण सागर जी पिछले कई दिनों से पीलिया से ग्रस्त थे , जिसके इलाज के लिए उन्हें दिल्ली के मैक्स अस्पताल में दाखिल करवाया गया था। बताया जा रहा है कि उन पर दवाओं का असर होना बंद हो गया था तो जैन मुनि ने इलाज करवाने से इनकार कर दिया था और राधेपुरी जैन मंदिर जाने का फैसला किया था। आज दोपहर 3 बजे तरुणसागरम में तरुण सागर जी का अंतिम संस्कार किया जाएगा तरुणसागरम दिल्ली मेरठ रोड पर स्थित है।

कुछ ही समय पहले तरुण सागर जी ने कई राज्यों की विधानसभाओं में प्रवचन दिए थे। जैन मुनि तरुण सागर जी अपने कड़वे प्रवचन से जाने जाते थे। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जैन मुनि तरुण सागर जी के निधन पर शोक व्यक्त किया है।
तरुण सागर का जन्म 26 जून 1967 को मध्य प्रदेश के दमोह में हुआ था। 8 मार्च 1981 को तरुण सागर जी ने घर छोड़ दिया था उसके बाद उन्होंने छत्तीसगढ़ में दीक्षा ली थी। तरुण सागर जी को क्रांतिकारी संत के नाम से भी जाना जाता था। तरुण सागर जी का मूल नाम पवन कुमार था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here