छात्रवृत्ति मामले की जांच सी.बी.आई. को सौंपी जाएगी- मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर

0
690
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में आज यहां वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की गई, जिसमें केन्द्र व राज्य सरकारों द्वारा चलाई जा रही छात्रवृत्ति योजनाओं की समीक्षा की गई, जिसमें अनेक अनियमितताएं पाईं गई।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ संस्थानों में छात्रों की संख्या अविश्वसनीय रूप से अधिक है। उन्होंने कहा कि प्रारंभिक जांच मेंं राज्य सरकार के साथ केन्द्र के विभिन्न संस्थानों का सम्मिलित होना व बहुत सारे संस्थानों का प्रदेश के बाहर होने के कारण सरकार द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि मामले की गहन जांच की जाए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पूरे मामले की गहन छानबीन के लिए राज्य सरकार द्वारा निर्णय लिया गया है कि छात्रवृत्ति मामले की जांच जो मुख्यतः 2013-14 से जारी है, को सी.बी.आई. को सौंपा जाए। उन्होंने कहा कि अब एक बैंक खाते पर एक ही छात्र को छात्रवृत्ति मिलेगी और बिना आधार नम्बर के छात्रवृत्ति नहीं दी जाएगी।
उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग व अल्पसंख्यक छात्रों के व्यापक हित में चलाई जा रही इन योजनाओं में किसी प्रकार की गड़बड़ी को राज्य सरकार गंभीरता से लेगी और इसे सहन नहीं किया जाएगा।
बैठक में  शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज, मुख्य सचिव विनीत चौधरी, अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं प्रधान सचिव मुख्यमंत्री डा. श्रीकांत बाल्दी, अतिरिक्त प्रधान सचिव मुख्यमंत्री संजय कुण्डू, प्रधान सचिव तकनीकी शिक्षा आर. डी. धीमान, सचिव शिक्षा डा. अरूण शर्मा, निदेशक उच्च शिक्षा डा. अमरजीत सिंह व अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here