शहीद पुलिसकर्मियों के बच्चों को पुलिस पब्लिक स्कूलों में 12वीं कक्षा तक निशुल्क शिक्षा प्रदान की जाएगी-बी0 एस0 सन्धू

0
644
पंचकूला-21अक्तूबर – हरियाणा पुलिस महानिदेशक, श्री बी0 एस0 सन्धू ने कहा कि शहीद पुलिसकर्मियों के बच्चों को पुलिस पब्लिक स्कूलों में 12वीं कक्षा तक निशुल्क शिक्षा प्रदान की जाएगी।
  श्री सन्धू आज पुलिस शहीदी दिवस के अवसर पर पुलिस लाईन पंचकूला में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को संबोधित कर रहे थे।
  बीते वर्ष देशभर में शहीद हुए सभी पुलिस बलों व केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के 414 अमर शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए श्री सन्धू ने कहा कि देश की एकता और अखंडता को कायम रखने के लिए शहीद हुए पुलिस के जवानों और अधिकारियों की शहादत को कभी भुलाया नहीं जा सकता। देश सेवा व कर्तव्य परायणता के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीद जवानों का राष्ट्र सदैव आभारी रहेगा।
  उन्होने कहा कि इस वर्ष हरियाणा पुलिस के दो जवानों ने अपने कर्तव्य परायणता का परिचय देते हुए शहादत प्राप्त की। पुलिस हमेंशा उनके परिवार के साथ खडी है।
देश की सुरक्षा के लिए प्राणों का बलिदान देने वाले सभी अमर शहीद पुलिस कर्मियों की कुर्बानियों को सलामी देते हुये श्री सन्धू ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों के कल्याण के लिए लिये गए निर्णयों के तहत सेवा के दौरान मृत्यु होने पर उनके आश्रितों को दी जाने वाली विशेष अनुग्रह अनुदान राशी को 10 लाख रुपये से बढाकर 30 लाख रुपये किया गया है। इसी प्रकार, कर्तव्य परायणता के दौरान अतिगंभीर रुप से घायल होने की स्थिति में पुलिसकर्मी को 15 लाख रुपये, गंभीर रुप से घायल होने पर 10 लाख रुपये व मामूली घायल होने वाले जवान को 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इसके अतिरिक्त, आकस्मिक मृत्यु बीमा कवर के एक विशेष समझौते के तहत एच0 डी0 एफ0सी0 बैंक द्वारा 30 लाख रुपये की राशी भी प्रदान की जा रही है।
डीजीपी ने कहा कि प्रदेश में जल्द ही एंटी टेरेरिस्ट फोर्स कवच का गठन कर पुलिस के चुनिंदा 150 कमांडो को मानेसर स्थित नेशनल सिक्योरिटी गार्ड में विशेष प्रशिक्षण प्रदान कर किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार किया जाएगा।
  इस अवसर पर पुलिस आयुक्त पंचकूला श्रीमति चारु बाली ने देशभर में शहीद हुए पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों के नाम पढकर सुनाए।
इस मौके पर डीजीपी मुख्यालय श्री के के मिश्रा, डीजीपी अपराध श्री पी के अग्रवाल, डीजीपी मानवधिकार आयोग श्री के पी सिंह, एडीजीपी संचालन श्री ए एस चावला, पुलिस महानिरीक्षक श्री एस एस दून व श्री एम रवि किरण सहित अन्य पुलिस अधिकारी व कर्मचारी भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here